Breaking News

साल 2030 तक सड़कों पर 10 गुना इलैक्ट्रिक कारें आउटलुक : वर्ल्ड एनर्जी आउटलुक 2023  

ऊर्जा जगत में साल 2030 तक बहुत कुछ बदलने वाला है। और यह बदलाव होगा मौजूदा नीतियों के चलते। वर्ल्ड एनर्जी आउटलुक की ताज़ा रिपोर्ट की मानें तो आने वाले कुछ सालों में सड़कों पर लगभग 10 गुना अधिक इलेक्ट्रिक कारें होंगी, और रिन्यूबल एनेर्जी सोरसेज़ दुनिया के ऊर्जा स्रोतों का लगभग आधा हिस्सा बनाएंगे। लेकिन इस सब के साथ

ओपिनियन: कितने भारतीय कमला हैरिस से ऋषि सुनक तक की कतार में

अगर ब्रिटेन के नये प्रधानमंत्री ऋषि सुनक बने जाते हैं, तो वे एक तरह से उसी  परंपरा को ही आगे बढ़ायेंगे, जिसका श्रीगणेश 1961 में सुदूर कैरिबियाई टापू देश गयाना में भारतवंशी छेदी जगन ने किया था। वे तब गयाना के निर्वाचित प्रधानमत्री बन गए थे। उनके बाद मॉरीशस में शिवसागर रामगुलाम से लेकर अनिरूध जगन्नाथ, त्रिनिदाद और टोबैगो में वासुदेव पांडे, सूरीनाम

सारी बेटियां बनें चानू, लवलीना और मैरी कॉम जैसी

टोक्यो ओलंपिक खेलों में भारतीय खेमे से पूर्वोतर राज्य की महिलाओं के अभूतपूर्व प्रदर्शन की गूंज को सारा देश गर्व से देख-सुन रहा है। वेटलिफ्टिंग में चानू मीराबाई के शानदार प्रदर्शन से खेलों के पहले ही दिन भारत की बोहनी भी हो गई थी। उन्होंने देश की झोली में सिल्वर मेडल डाला। भारत को दूसरा

तुलसी जयंती पर विशेष: सब में रमते हैं तुलसी के राम

योगेश कुमार गोयल विक्रमी संवत् के अनुसार प्रतिवर्ष श्रावण मास के शुक्ल पक्ष की सप्तमी को मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम के अनन्य भक्त और महान् ग्रंथ ‘श्री रामचरितमानस’ के रचयिता गोस्वामी तुलसीदास की जयंती मनाई जाती है, जो इसबार 15 अगस्त को मनाई जा रही है। विक्रमी संवत् 1554 में उत्तर प्रदेश के बांदा जिले

विचार: हवा का रूख भांप, घाटी नेताओं ने बदलेे सुर 

अजय कुमार,
जम्मू- कश्मीर काफी बदल चुका है। बदला हुआ कश्मीर देश की जनता को काफी रास आ रहा है। इसके लिए केन्द्र की मोदी सरकार को सबसे अधिक श्रेय मिलना स्वभाविक है। क्योंकि 1954 में पंडित जवाहर लाल नेहरू सरकार द्वारा जम्मू-कश्मीर को अस्थायी रूप से धारा-370 और 35 ए के तहत जो स्पेशल स्टेट का

Opinion: महबूबा जी आपका पाक प्रेम नामंजूर है पूरे देश को

R.K
महबूबा मुफ्ती का पाकिस्तान प्रेम सिर चढ़ कर बोलता है। वह पड़ोसी मुल्क के अवाम का हित चाहें तो कोई बात नहीं। पर वे तो पाकिस्तान की सरकार के साथ बेशर्मी के साथ खड़ी हुई नजर आती हैं। उन्होंने यह फिर सिद्ध किया जब वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बाकी शिखर कश्मीरी नेताओं के साथ

ओपिनियन: किसे चाहिए कश्मीर में फिर से धारा 370?

R.K
जम्मू-कश्मीर में सर्वांगीण विकास में तेजी लाने के लिए नरेन्द्र मोदी की सरकार सक्रिय हो चुकी है। मोदी के विश्वस्त सहयोगी उप- राज्यपाल मनोज सिन्हा दिन- रात कड़ी मेहनत कर रहे हैं। केंद्र सरकार सबको विश्वास में लेकर ही आगे बढ़ना चाहती है। इसका प्रमाण है कि सरकार ने दिल्ली में 24 जून को प्रधानमंत्री