ब्रिटेन की रानी क्वीन एलिजाबेथ द्वितीय का 96 साल की उम्र में निधन

ब्रिटेन की रानी क्वीन एलिजाबेथ द्वितीय का 96 साल की उम्र में निधन

लंदन : ब्रिटेन की महारानी क्वीन एलिजाबेथ द्वितीय का 96 साल की उम्र में गुरुवार, आठ सितंबर 2022 को निधन हो गया। उनके निधन पर दुनिया भर के नेताओं ने शोक जताया है। गुरुवार दिन में ही यह खबर आयी थी कि क्वीन एलिजाबेथ की स्थिति नाजुक बनी हुई है। क्वीन एलिजाबेथ द्वितीय ब्रिटेन की राजशाही पर सबसे लंबे वक्त तक काबिज रहने वाली शख्सियत बन गयी हैं। वे 70 साल तक राजशाही पर काबिज रहीं।

ब्रिटिश रॉयल परिवार ने गुरुवार को अपने एक बयान में कहा, महारानी का आज दोपहर शांतिपूर्ण ढंग से बालमोरल में निधन हुआ। बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार, उन्होंने स्कॉटलैंड के एस्टेट में शांति के साथ अंतिम सांस ली। इस साल गर्मी के मौसम में ज्यादातर समय वे यहीं रहीं।

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने क्वीन एलिजाबेथ के निधन पर शोक जताते हुए कहा कि दुनिया ने एक महान व्यक्तित्व खो दिया, वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शोक प्रकट करते हुए महारानी एलिजाबेथ को प्रेरक नेतृत्व बताया है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी शोक प्रकट किया है।

क्वीन एलिजाबेथ के बड़े बेटे किंग चार्ल्स तृतीय ने कहा है कि उनकी प्यारी मां की मृत्यु उनके और उनके परिवार के लिए बहुत दुख की घड़ी है और उनकी कमी को दुनिया भर में शिद्दत से महसूस किया जाएगा।

1952 में ब्रिटेन की राजगद्दी पर बैठीं क्वीन एलिजाबेथ द्वितीय मुल्क में कई महत्वपूर्ण बदलावों का गवाह बनीं। उन्होंने अपने शासनकाल में ब्रिटेन में 15 प्रधानमंत्री देखे।

Edited By: Samridh Jharkhand

Related Posts

Latest News

बासुकीनाथ धाम में राजकीय श्रावणी मेला का उद्घाटन पेयजल व स्वच्छता मंत्री ने किया बासुकीनाथ धाम में राजकीय श्रावणी मेला का उद्घाटन पेयजल व स्वच्छता मंत्री ने किया
चाय मजदूरों की न्यूनतम मजदूरी के मुद्दे पर पीबीसीएमएस की याचिका पर होगी सुनवाई
रवि प्रकाश: कैंसर से लड़ता, मेडिकल साइंस में इतिहास रचता एक शख्स
कोडरमा के दो हिंदू परिवार सौ वर्षों से निकाल रहे ताजिया
अपना अधिकार मांगेगा थीम पर झारोटेफ का 18 जुलाई से होगा कार्यक्रम शुरू
बिहार में पॉपलर की खेती को बढावा देने के लिए किसानों को यमुनानगर मंडी का परिभ्रमण कराने की मांग
अनुबंध कर्मियों ने हेमंत सरकार को दी आंदोलन की चेतावनी, समान काम का समान वेतन सिद्धांत लागू करने की मांग 
देश के कई हिस्सों में भारी बारिश ने बढाई परेशानी, गोंडा में बाढ जैसे हालात, राहत कार्य जारी
विदेशी ताकतें भाजपा को हराने के लिये हर स्तर से लगी है: गीता कोड़ा
पांच दिवसीय गैर आवासीय विद्यालय नेतृत्व उन्मुखीकरण कार्यशाला
ईचा डैम रद्द करने को लेकर संघ ने मंझगांव विधायक को सौंपा मांग पत्र
ॐ ह्रीं विपत्तारिणी दुर्गायै नम: के मंत्रोच्चार से गुंजायमान हुआ शहर