Breaking News

पंजाब : नवजोत सिंह सिद्धू में दिखा कांग्रेस को अपना भविष्य, सोनिया ने बनाया प्रदेश अध्यक्ष

पंजाब कांग्रेस का अध्यक्ष नियुक्त किए जाने के बाद गुरुद्वारा में मत्थ टेकते नवजोत सिंह सिद्धू। ANI Photo.

नयी दिल्ली : पंजाब कांग्रेस में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और पूर्व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के बीच चल रही राजनीतिक जोर-आजमाईश में सिद्धू फिलहाल कैप्टन पर भारी पड़ गए हैं। कैप्टन खेमे की असंतुष्टि के बावजूद कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने नवजोत सिंह सिद्धू को रविवार की रात पंजाब कांग्रेस का अध्यक्ष नियुक्त कर दिया।

अपनी नियुक्ति से उत्साहित सिद्धू ने पटियाला में गुरुद्वारा जाकर मत्था टेका और उसके बाद वे अपने आवास पर पहुंचे। हालांकि सत्ता संतुलन के लिए हाइकमान ने पंजाब कांग्रेस में चार कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त किया है।

कांग्रेस ने संगत सिंह, सुखविंदर सिंह डैनी, पवन गोयल और कुलजीत सिंह नागरा को पंजाब कांग्रेस का कार्यकारी अध्यक्ष बनाया है। कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल के नाम इनकी नियुक्ति की अधिसूचना जारी की गयी है।

माना जाता है कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी से नवजोत सिंह सिद्धू की नजदीकी ने प्रदेश अध्यक्ष के रूप में उनकी नियुक्ति की संभावनाओं को मजबूत किया है।

नवजोत सिंह सिद्धू ने बीते सप्ताह आम आदमी पार्टी द्वारा खुद के नजरिए की तारीफ किए जाने की बात ट्वीट कर कही थी। माना जाता है कि सिद्धू ने ऐसा करके यह संकेत दिया था कि अगर कांग्रेस में उन्हें उचित सम्मान नहीं मिला तो वे आम आदमी पार्टी में जा सकते हैं।

सिद्धू की प्रदेश अध्यक्ष के रूप में नियुक्ति की संभावनाओं के बीच कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा था कि हाईकमान का हर फैसला उन्हें मंजूर होगा। हालांकि अब कैप्टन के अगले कदम पर सबकी नजरें टिकी हुई है। यह देखना दिलचस्प होगा कि क्या पंजाब कांग्रेस में अपनी कमजोर स्थिति को कैप्टन स्वीकार करते हैं या फिर नयी पार्टी गठन की ओर कदम बढाते हैं।

 

यह भी देखें