Rishi Sunak

भारत के लो-कार्बन ट्रांजिशन के बड़े पैमाने को अग्रिम पूंजी निवेश की आवश्यकता होगी। इस तरह समर्पित फंडिंग का उपयोग नई ग्रीन ऊर्जा, उद्योग और शहरी बुनियादी ढांचे के निर्माण और कार्बन-गहन परियोजनाओं में लॉक-इन से बचने के लिए किया जा सकता है। इन नई फंडिंग पहलों को उत्सर्जन को कम करने और आजीविका का समर्थन करने की बड़ी क्षमता रखने वाले लेकिन वित्त तक पहुंचने की कम क्षमता रखने वाले विकेन्द्रीकृत ग्रामीण ऊर्जा और सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों (MSMEs) में निवेश को भी प्राथमिकता देनी चाहिए।

वित्त मंत्री ने 11वीं यूके.भारत आर्थिक और वित्तीय वार्ता का किया नेतृत्व नयी दिल्ली : ब्रिटेन ने भारत की हरित और नवीकरणीय ऊर्जा परियोजनाओं में 1.2 अरब डॉलर निवेश करने का ऐलान किया है। 11वीं भारत-यूनाइटेड किंगडम आर्थिक और वित्तीय (ईएफडी) वार्ता के दौरान यूके के चांसलर ऋषि सनक ने गुरुवार को अपने समकक्ष वित्त