Nirmala Sitharaman

नयी दिल्ली : खबर में लगी तसवीर देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का है। यह तसवीर उनके कॉलेज के दिनों की है। निर्मला सीतारमण ने भारतीय राजनीति में बहुत तेजी से अपने लिए बड़ी जगह बनायी और आज मोदी सरकार का प्रमुख चेहरा हैं। 2010 के दशक के भाजपा के प्रवक्ता के रूप में

भारत के लो-कार्बन ट्रांजिशन के बड़े पैमाने को अग्रिम पूंजी निवेश की आवश्यकता होगी। इस तरह समर्पित फंडिंग का उपयोग नई ग्रीन ऊर्जा, उद्योग और शहरी बुनियादी ढांचे के निर्माण और कार्बन-गहन परियोजनाओं में लॉक-इन से बचने के लिए किया जा सकता है। इन नई फंडिंग पहलों को उत्सर्जन को कम करने और आजीविका का समर्थन करने की बड़ी क्षमता रखने वाले लेकिन वित्त तक पहुंचने की कम क्षमता रखने वाले विकेन्द्रीकृत ग्रामीण ऊर्जा और सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों (MSMEs) में निवेश को भी प्राथमिकता देनी चाहिए।

राष्ट्रीय मौद्रीकरण पाइपलाइन, एनएमपी को लेकर केंद्र की मोदी सरकार और विपक्ष के बीच आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला जारी है। इस बीच वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मंगलवार को एनएमपी योजना का बचाव करते हुए कांग्रेस को करारा जवाब दिया।

कोरोना महामारी के प्रकोप के बाद, एक फरवरी को भारत सरकार का पहला बजट घोषित हुआ। ज़ाहिर है, बजट से ख़ासी उम्मीदें थीं और कुछ बड़े फैसलों का इंतजार भी था। पर्यावरण संरक्षण और जलवायु परिवर्तन से लड़ाई की नज़र से देखें तो इंतज़ार था एक ऐसे बजट का जिसमें इन विषयों को प्राथमिकता दी

रांची (Ranchi) : झारखंड के मुख्यमंत्री व झारखंड मुक्ति मोर्चा के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन (Jharkhand Chief Minister Hemant Soren) ने सोमवार (1 February 2021) को संसद में केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (FM Nirmala Sitharaman) द्वारा पेश किए गए आम बजट (Budget2021)को आत्म बिक्री बजट बताया। उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार (Narendra Modi

नयी दिल्ली : वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण वित्त वर्ष 2021-22 का बजट सोमवार को लोकसभा में पेश किया। वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने पहली बार सोमवार को पेपरलेस बजट पेश किया। वित्तमंत्री ने एक टैब के माध्यम से अपना बजट भाषण प्रस्तुत किया और डिजिटल फार्मेट में सांसद इसकी प्रतियां सबके लिए उपलब्ध होंगी। निर्मला सीतारमण ने

नयी दिल्ली : वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman) ने गुरुवार को एक बड़ा ऐलान किया। निर्मला सीतारमण ने कहा कि केंद्र सरकार दो साल तक 1000 तक की संख्या वाले कर्मचारियों वाली संस्थाओं को नयी भर्ती वाले कर्मचारियों के पीएफ का पूरा 24 प्रतिशत हिस्सा सब्सिडी के रूप में देगी। उन्होंने कहा कि

  राहुल सिंह दो महीने लंबे लाॅकडाउन की मार से 55 साल के बुजुर्ग प्रह्लाद सिंह परेशान हैं. एक रिपोर्टर के रूप में उनसे मुलाकात होने पर वे कहते हैं – मनरेगा में ही मेरा काम करवा दीजिए, हम उसको कर लेंगे. वे यह बात इस उम्मीद से कहते हैं कि जब कोई पत्रकार उनकी

नयी दिल्ली : वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण आज कांग्रेस नेता राहुल गांधी द्वारा सड़क किनारे बैठ कर प्रवासी श्रमिकों से बातचीत करने के लेकर भड़क गयीं. निर्मला सीतारमण ने कहा कि कल जो हुआ, माइग्रेट को उनके रास्ते पर चलते हुए उनके बगल में बैठ कर बातचीत करने का, वो समय है क्या. राहुल गांधी को

हम आज 8 क्षेत्रों पर ध्यान केंद्रित करने जा रहे हैं – कोयला, खनिज रक्षा उत्पादन, हवाई क्षेत्र प्रबंधन, MROs बिजली वितरण कंपनियां, अंतरिक्ष क्षेत्र, परमाणु ऊर्जा : वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण. आज घोषित किए जा रहे संरचनात्मक सुधारों से उन क्षेत्रों पर प्रभाव पड़ेगा जो विकास के नए क्षितिज हैं, नए निवेश को बढ़ावा