Breaking News

स्वास्थ्य व्यवस्थाओं को दुरुस्त करने में जुटे रांची डीसी: सरकारी अस्पताल और स्वास्थ्य केंद्रों का करेंगे निरीक्षण

Ranchi DC Chavi ranjan

रांची: रांची के डिप्टी कमिश्नर छवि रंजन शहर की स्वास्थ्य व्यवस्था को दुरुस्त करने में जुटे हैं. इसके अलावा वे कोरोना की तीसरी लहर से निपटने की तैयारियों का जायजा ले रहे हैं. वो खुद स्वास्थ्य व्यवस्थाओं पर नजर रख रहे हैं. इसी के मद्देनजर कोरोना की तीसरी लहर को लेकर भी रांची जिला प्रशासन सख्त नजर आ रहा है. सभी सिविल सर्जन को सरकारी अस्पताल में मैन पावर की व्यवस्था सुनिश्चित सुनिश्चित करने कोई के निर्देश दिए गए हैं. इसके साथ ही जिले में टीकाकरण जारी करने के निर्देश भी दिए गए हैं. डिप्टी कमिश्नर छवि रंजन खुद स्वास्थ विभाग अधिकारियों के साथ तैयारी का जायजा ले रहे हैं. इसके साथ ही वो अक्टूबर महिने में सभी स्वास्थ्य केंद्रों और सरकारी अस्पतालों का जायजा लेंगे.

लापरवाही बरतने पर लिया जाएगा सख्त एक्शन

दैनिक भास्कर में छपी रिपोर्ट के अनुसार बैठक में अनाधिकृत रूप से अनुपस्थित रहने पर डिप्टी कमिश्नर ने बेड़ो एमओआईसी का वेतन रोकने के निर्देश दिए हैं. इसके साथ ही डीसी ने यह भी निर्देश दिए हैं कि अगर कहीं भी बीपीएम या बीडीएम का प्रदर्शन ठीक नहीं है तो वहां से एमओआईसी सूचित करें उन पर कार्रवाई की जा सके. इसका साफ मतलब है कि डीसी रवि रंजन किसी भी तरह की लापरवाही को बर्दाश्त करने के मूड में नहीं है. इसके बाद भी अगर कोई लापरवाही करता है तो उसे उसका खामियाजा भुगतने के लिए तैयार रहना होगा.

टीबी उन्मूलन के लिए चलाया जा रहा है अभियान

रांची में टीबी उन्मूलन के लिए भी अभियान चलाया जा रहा है. एक सर्वेक्षण के तहत डोर टू डोर जाकर टीबी पॉजिटिव मरीजों को चिन्हित किया जाएगा और उनका इलाज होने तक उनका आंकलन किया जाएगा. आपको बता दें कि यह अभियान मंगलवार 21 सितंबर से 20 अक्टूबर तक चलाया जाएगा.

कुपोषित बच्चों को हेल्थ सेंटर लाने के निर्देश

जिले में स्वास्थ्य व्यवस्था को ठीक करने के साथ-साथ रांची के डीसी ने कुपोषण के शिकार बच्चों को भी चिन्हित करने के लिए निर्देश दिए हैं. उन्होंने सभी मेडिकल ऑफिसर इंचार्ज को अपने क्षेत्र में कुपोषित बच्चे को चिन्हित कर कुपोषण उपचार केंद्र लाने और सही जानकारी देने के निर्देश दिए हैं.

यह भी देखें