Breaking News

Mob Lynching: लातेहार में पंचायत के आदेश पर युवक की पीट-पीट कर हत्या

Mob lynching

मॉब लिंचिंग की प्रतीकात्मक फोटे

लातेहार: जिले के हेरहंज थाना क्षेत्र अंतर्गत हेसातू गांव में एक युवक की पंचायत के आदेश के बाद पीट-पीट कर हत्या (mob lynching) कर दी गयी। युवक का नाम दिनेश सिंह (दीनू) था। दिनेश पर गांव की ही एक महिला के साथ अवैध संबंध का आरोप था। महिला की पति के शिकायत के बाद पंचायच बैठी थी। पंचायत के आदेश पर दिनेश के साथ उसकी पत्नी, भाई और सास को भी पंचायत में ही जमकर पीटा गया। पिटाई के बाद देर रात दिनेश की मौत हो गयी।

मुखिया के पति के आदेश पर हुई दिनेश की हत्या (mob lynching)
मृतक दिनेश की पत्नी सूर्यमणि देवी ने बताया कि गांव के ही सूर्यदेव सिंह ने दिनेश पर अपनी पत्नी के साथ संबंध का आरोप लगाया था। इस बात को लेकर गुरुवार रात को पंचायत बैठी थी। पंचायत में मुखिया मालती देवी की पत्नी सोहराई सिहं ने दिनेश को पीटने का आदेश दिया। भरी पंचायत में लोगों ने दिनेश को पीटा, जिसके बाद उसकी मौत हो गयी।

पंचात ने लगाया था 51 हजार का जुर्माना
सूर्यमणि देवी ने बताया कि पंचायत ने उनके पति पर 51 हजार रुपये का जुर्माना लगाया था। इसमें से 3100 रुपये तुरंत लिए गये। शेष पैसों के लिए एक सप्ताह का समय दिया गया। लेकिन इस बीच पिटाई (mob lynching) के कारण दिनेश की मौत हो गयी। दिनेश की पत्नी के अलावा दो छोटे बच्चे भी हैं। पूरा परिवार डरा हुआ है।

बाबूलाल ने हेमंत पर साधा निशाना
बाबूलाल मरांडी ने घटना पर आपत्ति जाहिर की है। उन्होंने ट्विटर पर लिखा है कि लोगों में कानून का डर खत्म हो गया है। राज्य में इस प्रकार की घटनाएँ लगातार बढ़ती जा रहा है। हेमंत सोरेन पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा है कि राज्य के मुखिया इन घटनाओं पर मौन हैं, लेकिन जनता सब देख रही है।