Breaking News

जमशेदपुर में ट्रिपल मर्डर, महिला सिपाही की उसकी मां और बेटी सहित हत्या

जमशेदपुर : जमशेदपुर में ट्रिपल मर्डर की सनसनीखेज वारदात को अंजाम दिया गया है। गोलमुरी पुलिस लाइन में महिला सिपाही की उसकी मां और बेटी सहित धारदार हथियार से वार कर हत्या कर दी गई। तीनों की लाश पुलिसकर्मियों को सरकारी क्वार्टर जे-5 (ब्लॉक-2) से बरामद हुआ है। पुलिस लाइन में एक साथ तिहरे हत्याकांड से दहशत फैल गया है।

 

सविता को अनुकंपा के आधार पर नौकरी मिली थी। उसके पति का नाम कैलाश हेंब्रम था, जिसकी मौत जादूगोड़ा में नक्सलियों के हमले में हो गई थी। इसके बाद उसकी पत्नी को पुलिस की नौकरी मिली थी और पिछले दो वर्ष से वह सेवा पुलिस लाइन स्थित फ्लैट में अपनी मां और बेटी के साथ रह रही थी।

 

मृतकों में महिला सिपाही सविता हेंब्रम (30), मां लखिया मुर्मू (70) और बेटी गीता हेंब्रम शामिल हैं। घटना को अंजाम देने के बाद अपराधियों ने तीनों लाशों को फ्लैट में बंद कर बाहर से ताला मार कर फरार हो गए। फ्लैट से दुर्गंध आने पर पड़ोसी पुलिसकर्मी और उनके परिजनों ने गुरुवार रात को मेजर धर्मेंद्र कुमार को सूचना दी। मेजर ने तुरंत इसकी जानकारी एसएसपी प्रभात कुमार को दी। गोलमुरी थाने की पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। एसएसपी की मौजूदगी में फ्लैट का ताला तोड़ गया तो अंदर तीनों के शव क्षत-विक्षत अवस्था में पड़ी थी।

 

फ्लैट के अंदर का नजारा देख पुलिसकर्मी भी सकते में आ गए। महिला सिपाही सविता की लाश खून से लथपथ पलंग पर पड़ी थी। जमीन पर सविता की मां लखिया का शव पड़ा था, जबकि पास ही में बेटी गीता की लाश भी पड़ी थी। तीनों को किसी धारदार हथियार हत्या की गई थी। मौके पर फॉरेंसिक टीम भी पहुंची और जांच शुरू कर दी है, जबकि पुलिस डॉग स्क्वायड की मदद से सुराग तलाशने में जुट गई है।

 

यह भी देखें