Breaking News

हिजला मेला परिसर में स्थित संतालों का पूज्य स्थल दिसोम मरांग बुरु थान तूफान से गिरा, आक्रोश

दुमका : रविवार को आए आंधी-तूफान में हिजला मेला परिसर में स्थित संतालों का पूज्य स्थल दिसोम मरांग बुरु थान पूरी तरह से गिर गया। इससे ग्रामीण काफी दुखी और नाराज हैं। ज्ञात हो यहां राजकीय मेला के समय हर वर्ष सरकार के द्वारा इसका मरम्मत करवायी जाती है। दो वर्ष से कोरोना संक्रमण के कारण मेला नही लगा और इसका मरम्मत भी नहीं करवायी गयी।इस कारण आंधी में यह चरमरा कर गिर गया।

ग्रामीणों का कहना है कि दिसोम मरांग बुरु थान का पक्कीकरण के लिए उपायुक्त दुमका को लिखित आवेदन दिया गया था लेकिन अब तक पूज्य स्थल का पक्कीकरण नही हुआ। जबकि मेला परिसर में अन्य भवन का निमार्ण किया गया। ग्रामीणों में आक्रोश है कि मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन, विधायक बसंत सोरेन और दिसोम गुरु शिबू सोरेन के द्वारा यह आश्वासन दिया गया था कि पूज्य स्थल का पक्कीकरण किया जाएगा लेकिन अब तक पक्कीकरण नहीं हुआ और न ही प्रशासन द्वारा मरम्मत ही कराया गया। इसको लेकर ग्रामीण काफी नाराज हैं। उनकी मांग है कि जल्द से जल्द पक्कीकरण कराया जाए।

सूत्रों ने बताया कि आंधी तूफान से हिजला मेला परिसर में हुए नुकसान का जायजा लेने दुमका प्रखंड के सीओ शाम में गए थे।

यह भी देखें