Breaking News

देवघर के रहने वाले बालू घोटाले के आरोपी आइपीएस राकेश दुबे के बिहार-झारखंड के 4 ठिकानों पर छापेमारी

Rakesh Dubey IPS File Photo.

पटना : बिहार के भोजपुर जिले के निलंबित एसपी व आइपीएस अधिकारी राकेश दुबे के बिहार-झारखंड स्थित चार ठिकानों पर छापेमारी चल रही है। राकेश दुके के ये दो ठिकाने बिहार के पटना में और दो झारखंड में हैं। झारखंड में एक होटल पर छापेमारी चल रही है। उनके ठिकानों पर बिहार की अपराध अनुसंधान शाखा, इओयू छापेमारी कर रही है। बालू घोटाला मामले में किसी आइपीएस अधिकारी के ठिकानों पर यह पहली छापेमारी है। इससे पहले डीएसपी रैंक व डीटीओ रैंक के अधिकारियों के ठिकानों पर छापेमारी हुई है।

राकेश दुबे प्रोन्नत आइपीएस अधिकारी हैं और मूल रूप से बिहार पुलिस सेवा के 42वीं बैच के अधिकारी हैं। इसी साल उन्हें अप्रैल में सरकार ने भोजपुर के एसपी के रूप में तैनात किया था। वे इससे पहले राज्यपाल के एडीसी थे। राकेश दुबे मूल रूप से झारखंड के देवघर जिले के रहने वाले हैं। वे वर्ष 2000 में बिहार पुलिस सेवा में शामिल हुए और दिसंबर 2020 में उनहें आइपीएस के रूप में प्रोन्नति मिली।

राकेश दुबे को बालू घोटाला मामले में बिहार सरकार ने निलंबित कर दिया था। उनके खिलाफ वारंट भी जारी किया गया था। उन पर बालू माफियाओं से सांठगांठ का आरोप है।

कुछ दिन पहले डीटीओ रैंक के एक अधिकारी के कई ठिकानों पर छापेमारी की गयी थी। इओयू को खुफिया रिपोर्ट मिली थी कि बालू माफियाओं से कई अधिकारियों के संपर्क हैं। हाल के दिनों में नीतीश कुमार सरकार ने बालू माफियाओं पर कार्रवाई तेज की है।