Breaking News

गंगा पुल निर्माण का उचित मुआवजा देने की मांग को लेकर धरना, डीएम को सौंपा ज्ञापन

भागलपुर : सुल्तानगंज-अगुवानी घाट के बीच निर्माणाधीन गंगा पुल व अप्रोच पथ के लिए सुल्तानगंज नगर परिषद के वार्ड संख्या-8 कासीमपुर के निवासियों की अधिग्रहीत जमीन का उचित मुआवजा देने, बिहार सरकार की जमीन पर बसे उजाड़े गये भूमिहीनों को भी पुनर्वास के साथ मुआवजा देने, जमीन मालिकों पर लादे गये झूठे मुकदमे वापस लेने और लाठी चार्ज के दोषियों को सजा देने की मांगों को लेकर सामाजिक न्याय आंदोलन, बिहार के बैनर तले भागलपुर डीएम कार्यालय के समक्ष बुधवार को एकदिवसीय धरना आयोजित किया गया।

धरना के अंत में रामानंद पासवान, गौतम कुमार प्रीतम, शंकर बिंद, विजय कुमार दास, शिवनंदन ठाकुर, शिशिर सिंह और प्रकाश पासवान के प्रतिनिधि मंडल ने डीएम कार्यालय को ज्ञापन सौंपा।

सामाजिक न्याय आंदोलन, बिहार के रामानंद पासवान ने कहा कि सुल्तानगंज.अगुवानी घाट के बीच निर्माणाधीन गंगा पुल व अप्रोच पथ के लिए अधिग्रहीत जमीन के मालिकों को खतियान में दर्ज जमीन के किस्म के आधार पर उचित मुआवजा मिलना चाहिए। बिहार सरकार की जमीन पर बसे उजाड़े गये भूमिहीनों को भी पुनर्वास के साथ मुआवजा मिले। प्रशासन अन्यायपूर्ण, दमनकारी रवैये पर रोक लगाये।

सामाजिक न्याय आंदोलन, बिहार के गौतम कुमार प्रीतम और शंकर बिंद ने कहा कि नगर परिषद सुलतानगंज के वार्ड 8 के कासीमपुर के खास समुदाय के जमीन मालिकों और सरकारी जमीन पर बसे भूमिहीनों को प्रशासन ने अन्याय व दमन के निशाने पर ले रखा है। यह संविधान विरोधी है, सरकार का प्रशासन धर्मनिरपेक्षता व लोकतंत्र का मजाक उड़ा रहा है। इसे बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है।

सामाजिक न्याय आंदोलन, बिहार के विजय कुमार दास और अधिवक्ता प्रकाश पासवान ने कहा कि जमीन मालिकों और भूमिहीनों की आवाज को दबाने के लिए लादे गये झूठे मुकदमे की वापसी और दमन के दोषियों पर कार्रवाई होनी चाहिए।

धरना में मो शब्बीर, मो इम्तियाज, सुबोध मंडल, मो सोऐब, मो आलम, शंकर दास, मो अब्बास, मो फरीद, शकीला खातून, शबीना खातून, परवीना खातून, चंद्रशेखर दास, सोबीना खातून सहित कई लोग शामिल थे।

 

यह भी देखें