Breaking News

सृजन घोटाले में इडी की बड़ी कार्रवाई, गाजियाबाद में सात फ्लैट, छह दुकानें जब्त

पटना : बिहार के चर्चित सृजन घोटाले में केंद्रीय जांच एजेंसी प्रवर्तन निदेशालय ने बड़ी कार्रवाई की है। प्रवर्तन निदेशालय ने उत्तरप्रदेश के गाजियाबाद में 10 आरोपियों के सात फ्लैट व छह दुकानें अंतिम रूप से जब्त कर ली है। जब्त किए गए फ्लैट सृजन घोटाले के प्रमुख आरोपियों एवं उनकी पत्नियों के नाम पर हैं।

जब्त किए गए फ्लैट गाजियाबाद के लग्जरी अपार्टमेट कॉलोनी गार्डेनिया के फेज – 1 व फेज – 2 में हैं। इनकी कीमत मौजूदा बाजार मूल्य के अनुसार, दो से ढाई करोड़ के बीच है। इडी ने जो दुकानें जब्त की हैं, वे भी गार्डेनिया सोसाइटी में ही स्थित हैं। दुकानें भी सृजन घोटाले के आरोपियों ने अपनी-अपनी पत्नी के नाम बुक करा रखा है।

जब्त की गयी संपत्ति सृजन घोटाले के आरोपियों व प्रशासनिक अधिकारियों की अवैध कमाई से अर्जित है, जो किसी समय सृजन घोटाले में संलिप्त रहे।

2018 में प्रवर्तन निदेशालय ने सृजन घोटाला मामले की जांच शुरू की। सीबीआइ की दर्ज एफआइआर के आधार पर इडी ने 2018 में इसीआइआर दर्ज कर मामले की जांच शुरू की। इन संपित्तयों को इडी ने इस साल के आरंभ में आरंभिक रूप से जब्त किया था और इन्हें पूर्ण रूप से जब्त कर लिया गया है।

ये संपत्ति दिवंगत अमित कुमार व रजनी प्रिया, आस्था लाल, डॉ प्रणव कुमार, डॉ अमिना बानो अंसारी, भारती ठाकुर, रूबी कुमारी व अन्य के नाम पर थीं।