Breaking News

खेल

पुरुषों और महिलाओं दोनों के लिए भारतीय हॉकी टीम ने हाल ही में संपन्न टोकियो ओलंपिक में इतिहास रचा है और निःसंदेह हमारे राष्ट्रीय खेल के लंबे समय से खोए हुए गौरव को वापस लाया है

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के देश-दुनिया में करोड़ों प्रशंसक हैं। उनके प्रशंसकों की लंबी फेहरिस्त में एक ने हरियाणा से रांची की 1400 किलोमीटर की लंबी यात्रा पैदल तय कर ली। उस युवक को ऐसा करने में 16 दिन का समय लग गया।

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर के लिए आज का दिन काफी यादगार है। सचिन ने 31 साल पहले आज ही के दिन 14 अगस्त 1990 को इंग्लैंड के खिलाफ अपना पहला अंतरराष्ट्रीय टेस्ट शतक लगाया था।

टोकियो ओलिंपिक में भले ही मेडल हासिल करने से थोड़े से के लिए भारतीय महिला हॉकी टीम चूक गयी हो लेकिन उसके खेल के अंदाज ने दुनिया भर के हॉकी प्रेमियों का दिल जीत लिया। इसलिए भारतीय महिला हॉकी टीम की हर खिलाड़ी पर देश गर्व कर रहा है। देश भर के विभिन्न प्रदेशों में घर लौटी हॉकी खिलाड़ियों का जोरदार स्वागत किया जा रहा है

मेसी ने कहा कि क्लब को छोड़ने का फैसला बहुत कठिन था और वे इसके लिए तैयार नहीं थे। उन्होंने कहा कि इस क्लब के लिए उन्होंने सबकुछ किया। उन्होंने कहा कि वे बहुत यंग एज में 13 साल की उम्र में यहां आए थे और आज 21 साल बाद यहां से अपनी पत्नी व तीन बच्चों के साथ जा रहे हैं।

जब मेहनत के अलावा और कुछ अच्छा ना लगे, जब लगातार काम करने के बाद थकावट न हो, समझ लेना सफलता का नया इतिहास रचने वाला है। टोकियो ओलिंपिक में भाला फेंक प्रतिस्पर्धा में देश के लिए पहला गोल्ड मेडल लाने वाले नीरज चोपड़ा का यही जीवन मंत्र है...

टोकियो ओलिंपिक में महिला हॉकी टीम में शामिल झारखंड की खिलाड़ियों के लिए राज्य सरकार से उनके प्रदर्शन के अनुरूप नौकरी की मांग तेज हो गयी है। भारत की महिला हॉकी टीम भले टोकियो ओलिंपिक में मेडल लाने से एक कदम दूर रह गयी हो, लेकिन उसके जूझने के जज्बे ने दुनिया भर के हॉकी प्रेमियों को अपना कायल बना दिया।

टोकियो ओलिंपिक में भारत को पहला गोल्ड मेडल हासिल हो गया है। नीरज चोपड़ा ने जैवलिन थ्रो में गोल्ड मेडल हासिल किया है। उनकी जीत पर उनके पिता ने खुशी व गर्व व्यक्त किया है।  

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने ऐलान किया है कि ओलिंपिक में हिस्सा लेने वाली प्रदेश की सदस्यों को राज्य सरकार अपने कोष से 50 लाख रुपये देगी। इसके साथ ही वह उनके जीर्ण घरों का भी निर्माण करवाएगी।

अमेरिकी माइक्रो ब्लागिंग साइट ट्विटर ने शुक्रवार को भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के एकाउंट से ब्लू टिक हटा दिया। महेंद्र सिंह का 8.2 मिलियन फालोअर वाला ट्विटर एकाउंट शुकवार शाम सवा चार बजे खबर लिखे जाने के समय बिना ब्लू टिक के दिख रहा था।