इस बार का धनतेरस विशेष संयोग लेकर आ रहा है, आप इन बातों का रखें ख्याल

धनतेरस यानी की धन त्रयोदशी का हमारे हिन्दू धर्म इसकी विशेष महत्व है। इस बार की धनतेरस अपने आप में एक बड़ा संयोग लेकर आ रहा है। 02 नवंबर 2021 यानी कि मंगलवार एवं अंक ज्योतिष गणना अनुसार 02 नवंबर 2021 पूर्णतः मंगल आधिपत्य में आएगा। साथ ही वैदिक ज्योतिष के अनुसार शनि स्वराशि रहेंगे जो कि अत्यंत शुभ फल प्रदान करेगा। मंगलवार दिन एवं मंगल की आधिपत्य ये बहुत बड़ा संयोग है।

अभिषेक पांडेय, अंक ज्योतिष.

अभिषेक पांडेय, अंक ज्योतिष

धनतेरस यानी की धन त्रयोदशी का हमारे हिन्दू धर्म इसकी विशेष महत्व है। इस बार की धनतेरस अपने आप में एक बड़ा संयोग लेकर आ रहा है। 02 नवंबर 2021 यानी कि मंगलवार एवं अंक ज्योतिष गणना अनुसार 02 नवंबर 2021 पूर्णतः मंगल आधिपत्य में आएगा। साथ ही वैदिक ज्योतिष के अनुसार शनि स्वराशि रहेंगे जो कि अत्यंत शुभ फल प्रदान करेगा। मंगलवार दिन एवं मंगल की आधिपत्य ये बहुत बड़ा संयोग है।

विशेष रूप से धनतेरस भगवान धन्वन्तरि का प्राकट्य उत्सव है, लेकिन समुद्र मंथन के समय माँ महा लक्ष्मी की भी प्राकट्य हुई, साथ मे भगवान कुबेर भी आए हैं, ऐसा पुराणों मे वर्णन है कि भगवान धन्वन्तरि अमृत कलश लेकर आए हैं एवं संपूर्ण जनमानस को अमृत रूप में औषधी प्रदान किया है, इसलिए चिकित्सा क्षेत्र से संबंधित लोगों के लिए धनतेरस विशेष दिन होता है।

इस दिन नयी वस्तु खरीदारी का अपना महत्व है, मान्यता है कि घर की सफाई होने के बाद हमारे घर से नकारात्मक ऊर्जा चली जाती है, इसलिए नयी वस्तु लाकर हम सकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश कराते हैं। साथ ही स्वर्ण, चांदी, झाड़ू आदि की खरीदारी करनी चाहिए।

विशेष समय मुहूर्त को ध्यान मे रखते हुए खरीदारी करनी चाहिए, जिससे हमारे घर मे यश, कृति, वैभव एवं सकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश हो।

अंक ज्योतिष मूलांक यानी कि आपकी जन्मतिथि के अंकों का योग मूलांक कहलाता है।

जैसे 22 नवंबर 2000 यानी कि इस जन्मतिथि का मूलांक 4 होगा। उसी प्रकार आप अपना मूलांक चेक करें एवं
जानें कि आपके मूलांक अनुसार आपके लिए क्या खरीदना विशेष शुभ होगा जो आपके घर में महा लक्ष्मी की कृपा देगा, तो मूलांक शुरू करते हैं –

मूलांक 1 = सोने, चांदी, तांबे से बनी वस्तु विशेष मूलांक 1 वाले आप केसर खरीदें।
मूलांक 2 = चांदी, मोती रत्न या उससे बनी वस्तु ।
मूलांक 3 = सोने, पीतल, विशेष रूप से मधु खरीदें।
मूलांक 4 = सोने, तांबे, हीरे एवं विशेष मोबाइल खरीदें।

मूलांक 5 = सोने,  तांबे, पन्ना रत्न विशेष धनिया खरीदें।
मूलांक 6 = सोने, चांदी एवं तांबे का सिक्का खरीदें।
मूलांक 7 = सोने,  चांदी,  तांबे का बर्तन जो पूजन में आप प्रयोग करें।
मूलांक 8 = स्टील, पीतल खरीदे।
मूलांक 9 =सोने  चांदी,  मूँगा रत्न।

खरीदारी का विशेष समय 

संध्या काल 03 बजे के बाद खरीदारी करें, यह जनमानस के लिए बहुत शुभ होगा।

विशेष पूरे विश्व के जनमानस से प्रार्थना है कि भगवान धन्वन्तरि से प्राथना करें कि संपूर्ण विश्व को कोरोना जैसे महामारी से मुक्त करें। विशेष महालक्ष्मी सबके घर मे विराजमान हो यही प्रार्थना है।

सभी लोगों को धनतेरस की हार्दिक शुभकामनाएं।

यह भी देखें