कैबिनेट ने कृषि कानूनों को वापस लेने को दी मंजूरी, संसद के शीत सत्र में रहेगी प्राथमिकता

केंद्रीय कैबिनेट ने बुधवार को पिछले साल संसद में पारित कराए गए तीन नए कृषि कानूनों को वापस लेने को मंजूरी दे दी है। करीब एक साल से जारी किसान आंदोलन के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले सप्ताह इन तीनों कानून को वापस लेने का ऐलान किया था।

Anurag Thakur ANI Photo.

नयी दिल्ली : केंद्रीय कैबिनेट ने बुधवार को पिछले साल संसद में पारित कराए गए तीन नए कृषि कानूनों को वापस लेने को मंजूरी दे दी है। करीब एक साल से जारी किसान आंदोलन के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले सप्ताह इन तीनों कानून को वापस लेने का ऐलान किया था।

कैबिनेट की बैठक के बाद केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि आज केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने को मंजूरी दी गयी और संसद के अगले सत्र में इसकी प्रक्रिया को पूरा करना हमारी प्राथमिकता होगी।

उल्लेखनीय है कि मोदी सरकार जहां कृषि कानून को वापस लेने को तैयार हो गयी है, वहीं किसान अब भी आंदोलन पर डंटे हैं और उन्होंने सरकार के समक्ष कई प्रमुख मांगें रखी हैं। इसमें सबसे अहम है एमएसपी को लेकर कानून बनाने की मांग। किसान यह चाहते हैं कि एमएसपी को सरकार वैधानिक मान्यता दे और अभी सीमित मात्रा में जो एमएसपी पर खरीदारी होती है उसके बजाय निर्बाध रूप से खरीद हो।

वहीं, केंद्रीय कैबिनेट ने आज पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना को मार्च 2022 तक जारी रखने को मंजूरी दे दी है।

यह भी देखें