Samridh Jharkhand
Fastly Emerging News Portal from Jharkhand

कोरोना महामारी से निबटने में होमियोपैथी चिकित्सकों को भी मददगार बनाया जाए : डाॅ एसएन झा

0

- Sponsored -

- sponsored -

डाॅ एसएन झा

डीएचएमएस
होमियोपैथी फिजिशियन
मेडिकल ऑफिसर, देवघर काॅलेज, देवघर
कार्यकारिणी सदस्य, रेडक्रास सोसाइटी, देवघर

देवघर बाबा नगरी में कोविड19 के नियंत्रण में होमियोपैथी चिकित्सा पद्धति की ओर सहायता करने की आवश्यकता है. वर्तमान समय में हर तबके तक संक्रामक कोविड19 के फैलने की खबरें आ रही हैं. ऐसी परिस्थिति में मौसम अनुकूल वायरस इन्फेक्शन, बैक्टिरिया, वैसाई, डेंगू, चेचक इत्यादि रोगों का आक्रमण होने की संभावना बढ जाती है.

आयुष मंत्रालय द्वारा जो सुझाव दिए गए हैं, उसका अनुशरण करते हुए होमियोपैथी चिकित्सा देवघर की ओर से जवाबदेह चिकित्सकों की एक टीम जो डीएचएमएस एवं बीएचएमएस हों, वो बनायी जानी चाहिए. भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय से जो चिकित्सक संबद्ध हैं उनकी डीसी, सीएस, एसपी की निगरानी में एक टीम बनायी जानी चाहिए. ऐसी व्यवस्था हो कि होमियोपैथी विकित्सकों की एक सूची तैयार की जाए और उनके लिए सोशल मीडिया पर कंसल्ट करने की व्यवस्था करते हुए रोगी को सही सलाह दी जाए. इसके तहत प्रतिरोधक व उपचार के संबंध में ये चिकित्सक जानकारी देंगे. आज सोशल मीडिया की पहुंच हर व्यक्ति तक है.

- Sponsored -

- Sponsored -

होमियोपैथी मेडिसीन एक प्रमाणित दवा है और वर्तमान संकट पूर्ण समय में उसका रिव्यू भी हो जाएगा और भविष्य में, आने वाले समय में, चिकित्सकों व आम जनता के लिए यह सहायक होगा.
जिला स्तर पर कमेटी का गठन
चिकित्सा के लिए जिला स्तर पर कमेटी का गठन किया जाए, जिसमें सोशल मीडिया साइट फेसबुक का भी उपयोग किया जाए ताकि लोग आॅनलाइन संपर्क कर सकें. इसकी व्यवस्था सरकार व एनजीओ द्वारा की जाये.
नगर निकाय, प्रखंड, पंचायत सभी जगह पर इसके लिए परामर्श केंद्र खोला जाये, जहां आम लोग परामर्श ले सकें.

यह भी ध्यान दिया जाये कि स्वैच्छिक संस्थाएं, दवा विक्रेता व आम जनता अपने मन से दवा वितरित न करे, क्योंकि यह एक प्रकार का कानूनी अपराध है.
दवा के संबंध में जो सलाह दी जाए या जिसका वितरण किया जाए, उसका एक रिकार्ड तैयार किया जाए और आम जनता से उसका रोग मुक्त होने और चिकित्सा सुविधा पाने की जानकारी हासिल करने में भारत सरकार एवं झारखंड सरकार को मदद मिलेगी. ऐसा करने से विश्व में होमियोपैथी चिकित्सा पद्धति का अमूल्य व बड़ा योगदान होगा.

अतः देवघर उपायुक्त से आग्रह किया जाता है कि रेडक्रास सोसाइटी की ओर से इस कार्य का संचालन करने में वे मदद करें. यह सभी चिकित्सा पद्धति से कारगर दवा होती है और सभी चिकित्सा पद्धतियों के साथ मिलकर होमियोपैथी कम खर्च में जन स्वास्थ्य की चुनौतियों का सामना आसानी से कर सकती है.

नगर निकाय के अधिकारी व सीओ को जानकारी दें कि हर वार्ड के वार्ड पार्षद को अवगत कराएं. पंचायतों के मुखिया को भी इसमें शामिल किया जाए तो देवघर में कोरोना को नियंत्रित करने के साथ-साथ एक नई उपलिब्ध भारत सरकार व झारखंड सरकार को हासिल होगी.

सम्मानित, मान्यताप्राप्त व अनुभवी चिकित्सकों द्वारा ही दवा वितरण किया जाए और अवैध ढंग से दवा वितरण पर रोक लगायी जाए. महामारी के दौरान अंधविश्वास वाली गतिविधियों व झाड़ फूंक पर रोक लगायी जाए क्योंकि इससे न कोरोना महामारी दूर हो सकती है और न ही कोई और बीमारी. नशापान पर पर भी रोक लगायी जाए. गिरोह बनाकर ऐसा करने वालों को दंडित किया जाए, ताकि कोरोना संक्रमण का खतरा समाज में कम से कम हो. इसके लिए चैक-चैराहों पर सघन तलाशी अभियान भी चलाया जाए.

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored

- Sponsored -