पर्यावरण

72 साल के सेवानिवृत्त शिक्षक चिंतामणि साह जैविक खेती करते हैं, आश्रम चलाते हैं और गांधीवादी तरीके से जीवन यापन करने पर यकीन करते हैं। उनकी आवश्यकताएं न्यूनतम हैं और प्रकृति, पर्यावरण संरक्षण पर उनका जोर अधिक। चिंतामणि झारखंड के गोड्डा शहर से करीब आठ-दस किमी की दूरी पर स्थित मोतिया गांव में अपनी उस पुस्तैनी जमीन पर कृषि, सोलर इनर्जी एवं सतत विकास को लेकर इस उम्र में भी अनूठे प्रयोग कर रहे है, जिसके ठीक सामने अदानी पॉवर का 1600 मेगावाटर का विशाल अल्ट्रा थर्मल पॉवर प्लांट बन रहा है। यह थर्मल पॉवर प्लांट उर्जा क्षेत्र के अध्याताओं के लिए वर्तमान में प्रमुख विषयों में एक है।

वैश्विक स्‍तर पर, पिछले सात वर्ष अब तक के सबसे गर्म सात साल के तौर पर हुए दर्ज, कार्बन डाई ऑक्‍साइड और मीथेन के कंसंट्रेशन में बढ़त जारी

राहुल सिंह की रिपोर्ट 18 साल की सिलवंती हेंब्रम ने अपने बचपन में तब विस्थापन देखा, जब उसका गांव कठालडील उजड़ गया और करीब छह-सात की उम्र में न्यू कठालडीह के नाम से बसे एक गांव में वह अपने माता-पिता व दो भाइयों के साथ रहने आ गयी। उसके नए गांव को बस न्यू शब्द

कोल इंडिया के क्लीन एनर्जी प्रोग्राम के तहत सीएमपीडीआइ कोल बेड मिथेन के उपयोग से जुड़ी परियोजनाओं पर कर रहा है काम राहुल सिंह रांची : एनर्जी ट्रांजिशन की जरूरतों के मद्देनजर सार्वजनिक क्षेत्र का उपक्रम कोल इंडिया कोल बेड मिथेन गैस के उपयोग की योजना को आगे बढाने की तैयारी में है। अगर सबकुछ

भारत में नगरनार, नेतरहाट, नियामगिरी और नगरौला से विकास और समृद्धि के नाम पर खदेड दिये गये लाखों ‘आदिवासियों’ और अमरीका में मिसिसिपी के तटों से उखाडे गये ‘इंडियन’ के मध्य सबसे बड़ी समानता यही है कि – उनमें से कोई भी फिर कभी ‘अपनी मूल-आदिवासी अस्मिता’ अर्थात आदिवासियत को वापस नहीं पा सका।

इंटरनेशनल एनर्जी एजेंसी की हाल में आयी रिपोर्ट में भारत में तेज आर्थिक विकास के मद्देनजर आवश्यक ऊर्जा जरूरतों के लिए कोयले की मांग बढने का आकलन पेश किया गया है। नीति आयोग के एनर्जी ड्राफ्ट में भी कोयले की जरूरत का उल्लेख किया गया है। वहीं, चौथे चरण की नीलामी के ऐलान के दौरान कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा है कि अगले 30 से 40 साल तक भारत के ऊर्जा क्षेत्र के लिए कोयला बहुत महत्वपूर्ण बना रहेगा...

केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने सोमवार को वाहन निर्माता कंपनियों को अगे छह महीने के अंदर फ्लेक्स फ्यूल और फ्लेक्स फ्यूल स्ट्रांग हाइब्रिड इलेक्ट्रिक वाहनों का निर्माण करने को कहा है। उन्होंने कंपनियों को छह माह के अंदर बीएस - 6 मानक वाले वाहन बनाने को कहा है।

दुनिया की सबसे महंगी चरम मौसम की घटनाओं में से दस की लागत $ 1.5 बिलियन से अधिक है। इस सूची में अमेरिका में अगस्त में आया तूफ़ान इडा सबसे ऊपर है, जिसकी अनुमानित लागत $65 बिलियन है। वहीँ जुलाई में यूरोप में आयी बाढ़ में 43 अरब डॉलर का नुकसान हुआ था।

गिरिडीह का एक बड़ा तबका पिछले दो महीने से इस बात को लेकर आशंकित है कि कहीं उनके यहां संचालित एक मात्र कोयला खदान इस साल के अंत में बंद न हो जाए। इसको लेकर अखबारों में लगातार खबरें छपती रही हैं। लोगों की भावनाओं के मद्देनजर स्थानीय जनप्रतिनिधि भी उसका संचालन जारी रखने को लेकर केंद्र से लेकर राज्य स्तर तक प्रयासरत हैं। पढिए जमीनी हालात का जायजा लेती गिरिडीह से यह ग्राउंड रिपोर्ट...

झारखंड जैसे अत्यधिक खनन वाले राज्य में डिस्ट्रिक्ट मिनरल फंड जिला खनन कोष के पास अगाध पैसा है, पर इस पैसे का लाभ खनन से प्रभावित होने वाले समुदायों को प्रभावी रूप में नहीं मिल पाता। महत्वपूर्ण बात यह कि डीएमएफटी की राशि का प्रमुखता से प्रभावित समुदाय के लिए स्वास्थ्य सुविधाएं विकसित करने पर भी खर्च होना चाहिए, क्योंकि खनन से सीधे तौर पर उनका स्वास्थ्य प्रभावित होता है।