Breaking News

ऋषि कपूर ने कभी नहीं किया डिंपल कपाड़िया से प्यार, पर मीडिया की गलत रिपोर्टिंग से टूट गया था उनका वह पहला अफेयर

अभिनेता ऋषि कपूर का चार सितंबर को जन्मदिन था। अगर वे हमारे बीच होते तो अपना 69वां जन्मदिन मना रहे होते। ऋषि कपूर कपूर खनदान में अपने पिता राज कपूर के बाद सबसे सफल कलाकार थे। उनके पिता राज कपूर ने जहां अभिनय और निर्देेशन दोनों में बड़ी सफलता हासिल की, वहीं ऋषि कपूर ने सिर्फ अभिनय में भाग्य आजमाया और काफी सफल रहे।

मुंबई : अभिनेता ऋषि कपूर का चार सितंबर को जन्मदिन था। अगर वे हमारे बीच होते तो अपना 69वां जन्मदिन मना रहे होते। ऋषि कपूर कपूर खनदान में अपने पिता राज कपूर के बाद सबसे सफल कलाकार थे। उनके पिता राज कपूर ने जहां अभिनय और निर्देेशन दोनों में बड़ी सफलता हासिल की, वहीं ऋषि कपूर ने सिर्फ अभिनय में भाग्य आजमाया और काफी सफल रहे।

ऋषि कपूर जैसी सफलता उनके भाई रंधीर कपूर व राजीव कपूर को नहीं मिली। ऋषि कपूर ने मात्र 21 साल 21 साल की उम्र में फिल्म बॉबी से डेब्यू किया और उनके अपोजिट उस फिल्म में 16 साल की डिंपल कपाड़िया थीं। डिंपल कपाड़िया एक अमरी बिजनसमैन चुन्नी भाई कपाड़िया की बेटी थीं। चुन्नी भाई कपाड़िया राज कपूर के दोस्त थे, इसलिए उनके दिमाग में अपने बेटे और अपने दोस्त की बेटी को एक साथ फिल्म में लांच करने का ख्याल आया।

बॉबी सुपर-डुपर हिट रही और इस फिल्म के हिट होने के साथ ही यह धारणा बन गयी कि ऋषि कपूर और डिंपल कपाडिया एक दूसरे से प्यार करते हैं। मीडिया के एक तबके ने अपनी रिपोर्टिंग में यह साबित करने की को कोशिश की कि उस समय के सुपरस्टार राजेश खन्ना ने एक तरह से ऋषि कपूर से डिंपल कपाड़िया को छिन लिया और ऋषि द्वारा डिंपल को दी गयी अंगूठी को राजेश खन्ना ने समुद्र में फेंक कर उस समय बॉबी में अभिनय कर रही डिंपल को शादी के लिए प्रपोज कर दिया। इसके बाद सुपरस्टार के आकर्षण से डिंपल भी नहीं बच सकीं और राजी हो गयीं। जिसके बाद ऋषि कपूर लंबे समय तक फ्रस्ट्रेशन में रहे और कुछ साल बाद उनके प्यार की तलाश अभिनेत्री नीतू सिंह पर पूरी हुई जो उनकी पत्नी भी बनीं।

लेकिन, खुद ऋषि कपूर के अनुसार यह सच्चाई नहीं है। उन्होंने अपने जीवनी खुल्लमखुल्ला नाम से लिखी है, जिसमें इस प्रसंग की चर्चा की है। ऋषि कपूर ने इसमें लिखा है कि मीडिया की गलत रिपोर्टिंग की वजह से उनका रिश्ता उनकी पहली गर्लफ्रेंड से टूट गया जो उनके साथ कॉलेज में पढा करती थीं।

ऋषि कपूर ने लिखा है कि बॉबी के दौरान मीडिया ने अपनी रिपोर्टिंग में मुझे डिंपल के वास्तविक प्यार की गिरफ्त में दिखाया जिससे मेरा रिश्ता मेरी गर्लफ्रेंड से टूट गया। ऋषि कपूर के अनुसार, जिस अंगूठी की बात मीडिया करता रहा, वह उन्हें उनकी दोस्त ने दी थी, जिसे मजाक-मजाक में डिंपल कपाड़िया ने उनसे बॉबी की शूटिंग के दौरान ले लिया था।

ऋषि कपूर अपनी बेबाकी के लिए मशहूर रहे। वे हर मुद्दे पर खुल कर बोलते थे चाहे उस पर लोगों की प्रतिक्रिया कुछ भी हो। उनकी बेबाकी ने ही उन्हें हर दिल अजीज बनाया।

 

एक और दिलचस्प किस्सा यह है कि राजेश खन्ना से अलग होने के सालों बाद जब 1985 में डिंपल कपाड़िया ने फिल्म सागर से बॉलीवुड में कम बैक किया और इसके लिए ऋषि कपूर को रमेश सिप्पी ने डिंपल के अपोजिट साइन किया तो ऋषि राजेश खन्ना से मिलने पहुंचे थे और उनसे यह सहमति मांगी थी कि वे उनकी पत्नी के साथ फिल्म में काम कर सकते हैं।

 

यह भी देखें