शिक्षा

झारखंड के 65 हजार पारा शिक्षकों को बिहार की तर्ज पर सेवा शर्त नियमावली मिलने की उम्मीद है। इसके लिए विभागीय स्तर पर तैयारी चल रही है और संभावना है कि 29 नवंबर को हेमंत सोरेन सरकार के दो वर्ष पूरे होने पर इसकी घोषणा कर दी जाए। इस दिन उनके स्थायीकरण और मानक वेतनमान देने की घोषणा की जा सकती है।

झारखंड में सरकारी स्कूल के कक्षा नौ से 12 तक के बच्चों को मुफ्त किताब व पोशाक सरकार की ओर से दिया जाएगा। बच्चों के बीच इसका वितरण अगले सत्र के लिए किया जाएगा। झारखंड के शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो ने सोमवार, 25 अक्टूबर 2021 को इस प्रस्ताव को मंजूरी दे दी।

रांची : झारखंड में अब कॉमर्स में ग्रेजुएट भी मिडिल स्कूल यानी कक्षा छह से आठ तक के शिक्षक बन सकेंगे। फिलहाल शिक्षक पात्रता के लिए सिर्फ कला, विज्ञान एवं मानविकी संकाय के अभ्यर्थी ही पात्र माने जाते हैं। इस बदलाव से कॉमर्स के लाखों छात्रों को लाभ होगा और उनके लिए नौकरी का एक

संघ लोक सेवा आयोग की सिविल सेवा परीक्षा में धनबाद की बेटी अपाला मिश्रा ने नौवां स्थान प्राप्त कर जिले की नाम रौशन कर दिया है. अपाला बचपन से ही पढ़ने मे होनहार थी. डॉ अपाला मिश्रा ने नौवां स्थान प्राप्त करना कर के ना केवल अपने परिवार का मान बढ़ाया है, बल्कि धनबाद जिले

भगवान श्री कृष्ण अर्जुन को गीता का ज्ञान देते हुए कहते हैं.. इंसान को केवल कर्म का ही अधिकार है, उसके फल के बारे में चिंता करने का नहीं. ये ज्ञान झारखंड लोक सेवा आयोग पर एकदम सटीक बैठती है. जेपीएससी द्वारा डिप्टी कलेक्टर की नियुक्ति के लिए वर्ष 2005 के शुरुआत में ही परीक्षा

पटना/रांची : यूपीएससी यानी संध लोक सेवा आयोग की सिविल सर्विस परीक्षा का परिणाम शुक्रवार को आ गया। इस परीक्षा में बिहार व झारखंड के प्रतिभागियो ने शानदार प्रदर्शन किया है। यूपीएससी की परीक्षा में बिहार के कटिहार जिले के रहने वाले शुभम कुमार ने टॉप किया है। शुभम ने बारहवीं की पढाई बोकारो के चिन्मया स्कूल से की है। उसके बाद आइआइटी बांबे से इंजीनियरिंग की और यूपीएससी 2019 में 290वां स्थान पर रहे थे।

लातेहार: झारखंड के नेतरहाट आवासीय विद्यालय में सेशन 2021-22 के लिए छठवीं कक्षा मे दाखिले की प्रक्रिया शुरू हो गई है. छात्र ऑफलाइन या ऑनलाइन दोनों तरीके से आवेदन कर सकते हैं. ऑनलाइन आवेदन के लिए नेतरहाट आवासीय विद्यालय की ऑफिशल पोर्टल netrahatvidylaya.com पर लॉग इन कर प्रवेश परीक्षा के लिए आवेदन भर सकते हैं.

रांची: ब्रिटिश उप उच्चायुक्त निक लो ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के नाम पत्र लिखा है. ब्रिटिश उप उच्चायुक्त ने पत्र के माध्यम से “मारंग गोमके जयपाल सिंह मुंडा पारदेशीय छात्रवृत्ति योजना” को सफलतापूर्वक शुरू करने और आदिवासी समुदाय के छात्रों को विदेश जाने में मदद करने के लिए सोरेन को बधाई दी है. सम्मान समारोह

जेपीएससी दे रहे अभ्यार्थियों के परीक्षा के लिये उम्र का कट ऑफ डेट 2016 ही रहेगा। सुप्रीम कोट ने हाइकोर्ट के फैसले को स्वीकारा कहा इस फैसले में दखल देने का कोइ कारण नहीं।

मरांग गोमके जयपाल सिंह मुंडा पारदेशीय छात्रवृत्ति योजना के तहत राज्य के अनुसूचित जनजाति के छह छात्रों का चयन विदेश में पढ़ाई के लिए किया गया है । ये सभी इंग्लैंड और आयरलैंड की यूनिवर्सिटी में उच्च शिक्षा ग्रहण करेंगे।