Breaking News

घुस लेने वाले हो जाएं सावधान राज्य में एसीबी ऐक्शन मोड़ में

एंटी करप्शन ब्यूरो द्वारा विशेष अभियान चलाकर तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया हजारीबाग के डाटा मैनेजर दिवाकर अम्बष्ठ गढ़वा प्रधान लिपिक रविंद्र पाण्डेय जरीडीह ब्लॉक को-ऑर्डिनेटर दीपक कुमार कपरदार

राँची: शुक्रवार को एंटी करप्शन ब्यूरो द्वारा विशेष अभियान चलाकर तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इसमें हजारीबाग सदर अस्पताल के जिला डाटा मैनेजर दिवाकर अम्बष्ठ, जरीडीह प्रखण्ड के ब्लॉक को-ऑर्डिनेटर दीपक कुमार कपरदार एवं गढ़वा जिलास्तरीय अभिलेखागार के प्रधान लिपिक रविंद्र पाण्डेय को घुस लेते एसीबी के टीम ने पकड़ा है ।

हजारीबाग के डाटा मैनेजर दिवाकर अम्बष्ठ द्वारा बरही के गोरिया कर्मा निवासी जागेश्वर महतो से आयुर्वेद मेडिकल जेपी क्लिनिक का रिन्यूल कराने के नाम पर 5 हजार रुपये की घुस मांगी गई थी। जागेश्वर ने 22 सितम्बर को असैनिक शल्य चिकित्सा सह मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी हजारीबाग कार्यालय के आयुर्वेद मेडिकल जेपी क्लिनिक का रिन्यूल के लिये दिवाकर अम्बष्ठ को आवेदन दिया था। इसकी लिखित शिकायत जागेश्वर ने एसीबी को दि जिसके बाद एसीबी के टीम ने अम्बष्ठ को 4 हजार रुपये घुस लेते हुए पकड़ा।

जरीडीह प्रखण्ड के ब्लॉक को-ऑर्डिनेटर दीपक कुमार कपरदार ने प्रधानमंत्री आवास योजना के लिये 19 लाभुकों से रजिस्ट्रेशन व बिल भुगतान के एवज में प्रति लाभुक दो-दो हजार रूपये की मंग की थी। एसीबी की टीम द्वारा दीपक को जैनामोड़ के एक चाय दुकान से रंगे हाथ पकड़ा गया। दीपक बिचौलिये से 10 हजार रुपये लेते पकड़े गए।

गढ़वा जिलास्तरीय अभिलेखागार के प्रधान लिपिक रविंद्र पाण्डेय खतियान की नकल निकलाने के लिये गढ़वा शहर के टंडवा मुहल्ला निवासी सत्यम कुमार से 4500 रुपये घुस की मांग की थी। रविंद्र पाण्डेय को समाहरणालय स्थित अभिलेखागार से कार्यालय अवधी में ही रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया।

यह भी देखें