Samridh Jharkhand
Fastly Emerging News Portal from Jharkhand

बहू को सीबीआइ नोटिस पर ममता बनर्जी की दहाड़, चूहों से लड़ाई में नहीं डरूंगी, बंदूक से लड़ चुकी हूं

0

- Sponsored -

- sponsored -

कोलकाता : रविवार को कोयला घोटाला व तस्करी मामले में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के सांसद भतीजे अभिषेक बनर्जी की पत्नी को सीबीआइ नोटिस तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष ने तीखी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा है कि वह बंदूक के खिलाफ लड़ाई लड़ चुकी हैं और चूहों से लड़ने में नहीं डरेंगी। ममता बनर्जी ने कहा कि जबतक वे जीवित हैं उन्हें डराया नहीं जा सकता है और वे किसी से डरने वाली नहीं हैं।

- Sponsored -

ममता बनर्जी ने कहा कि कोलकाता में अंतरराष्ट्रीय मातृभाषा दिवस पर एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि वे किसी की धमकी से डरने वाली नहीं हैं। उन्होंने बिना किसी का नाम लिए कहा कि वे उन्होंने हारना नहीं सीखा है और वे उन्हें हरा नहीं सकेंगे। ममता बनर्जी ने कहा कि वे गोलपोस्ट पर खड़ी हैं और देखती हैं कि 2021 की लड़ाई कौन जीतता है।

मालूम हो कि रविवार की दोपहर सीबीआइ ने तृणमूल सांसद व ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी के हरीश मुखर्जी रोड स्थित घर पर पहुंच कर उनकी पत्नी रुजिरा बनर्जी और साली के नाम नोटिस थमाया था और 24 घंटे के अंदर पूछताछ में शामिल होने के लिए कहा।

सीबीआइ को रुजिरा बनर्जी के बैंक खाते में संदिग्ध लेने देन का संदेह है। सीबीआइ को यह संदेह है कि अवैध कोयला तस्करी से संबंधित कुछ संदिग्ध लेन-देन उनके बैंक खाते हुए हैं। इससे पहले तृणमूल कांग्रेस की युवा शाखा के नेता विनय मिश्रा के ठिकानों पर पशु तस्करी मामले में सीबीआइ ने छापेमारी की थी।

अभिषेक बनर्जी ने अपनी पत्नी को नोटिस दिए जाने पर कहा कि इस हथकंडे से वे डरने वाले नहीं है। भाजपा सोचती है कि इस तरह नोटिस थमा कर उन्हें डराया जा सकता है तो वह गलती कर रही है। उन्होंने कहा है कि देश के कानून पर उन्हें पूरा भरोसा है। वहीं, भाजपा के प्रभारी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा है कि जो भी दोषी है उसे सजा मिलनी चाहिए। किसी को इस मामले को राजनीतिक रंग नहीं देना चाहिए।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored