Breaking News

एनर्जी ट्रांजिशन की विकास यात्रा में महिलाओं को मिले केंद्रीय भूमिका : निर्मला सीतारमण

सोलर एनर्जी के क्षेत्र में महिलाओं के लिए कमाई के अवसरों को बनाने की एक पहल को शुरू करते हुए केंद्रीय वित्त एवं कॉरपोरेट मामलों की मंत्री, निर्मला सीतारमण ने कहा “अब देश का ध्यान महिला विकास से हटकर महिलाओं की अगुवाई में विकास पर केंद्रित हो गया है। इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए सरकार और विभिन्न संगठन साथ मिलकर दिन रात काम कर रहे हैं। इसके तहत हर क्षेत्र में महिलाओं को शामिल किया जा रहा है और क्षेत्र तथा समाज की आजीविका में सुव्यवस्थित बदलाव लाए जा रहे हैं। इन बदलावों के केंद्र में यह बात है कि ऊर्जा शिक्षा और ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में महिलाओं की भागीदारी को कैसे बढ़ाया जाए।”

उन्होंने उन रास्तों पर भी विस्तार से बात रखी, जिन्हें अपनाकर सौर ऊर्जा अब महिलाओं के लिए आमदनी का जरिया बन सकती है। साथ ही उन्होंने भारत को वित्तीय रूप से सशक्त बनाने में बैंकों की भूमिका पर भी अपने विचार व्यक्त किए।

दरअसल वित्त मंत्री ने इन बातों को विमेन इन सोलर एनर्जी (वाइज) पोर्टल की शुरुआत करते हुए, नेशनल सोलर एनर्जी फेडरेशन ऑफ इंडिया (एनएसईएफआई) द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में अपने उद्घाटन भाषण में कहा।

एनएसईएफआई ने ऊर्जा क्षेत्र में महिलाओं की भूमिका को लेकर एक कार्यक्रम आयोजित किया जिसका उद्देश्य था विभिन्न उद्योगों, भूमिकाओं, और क्षेत्रों की महिला हित धारकों के लिए एक मंच तैयार किया जाये जिससे एक ऐसा परिप्रेक्ष्य बन सके कि आखिर महिलाओं की सहभागिता पर विचार-विमर्श के लिए रिन्यूबल एनेर्जी क्षेत्र किस तरह से एक रास्ता तैयार करता है।

एनएसईएफआई के चेयरमैन प्रणब आर मेहता ने अपने स्वागत भाषण मेन कहा “कोई भी ऊर्जा महिला ऊर्जा से बड़ी नहीं हो सकती और महिलाएं हर क्षेत्र के रूपांतरण में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही हैं।”

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इस मौके पर विमेन इन सोलर एनर्जी (वाइज) पोर्टल की भी शुरुआत की। यह पोर्टल एक ऐसा मंच है जहां से महिलाएं ऊर्जा क्षेत्र में काम करने के लिए मार्गदर्शन ले सकती हैं और रोजगार के अवसर भी तलाश सकती हैं। इस पोर्टल में सौर ऊर्जा क्षेत्र में काम कर रही अग्रणी महिलाओं को सलाहकार के रूप में शामिल किया गया है। वे ऐसी महिलाओं को परामर्श देंगी जो सौर ऊर्जा क्षेत्र में अपना भविष्य बनाना चाहती हैं। इस पोर्टल में विभिन्न प्रशिक्षण कार्यक्रम होंगे। पोर्टल से जोड़ी गई महिला सलाहकारों द्वारा तैयार किए जाने वाले इन प्रशिक्षण कार्यक्रमों का उद्देश्य सौर ऊर्जा क्षेत्र के विभिन्न पहलुओं को लेकर महिलाओं को प्रशिक्षण देना है। इस पोर्टल का मकसद ऊर्जा क्षेत्र में महिलाओं के नेतृत्व को आगे बढ़ा कर हरित एनेर्जी ट्रांज़िशन को संभव बनाना है जिससे सामाजिक प्रगति को बढ़ावा मिलेगा और अर्थव्यवस्था को मजबूती देने में मदद मिलेगी। एनएसईएफआई ने स्किल काउंसिल फॉर ग्रीन जॉब्स (एससीजीजे) के सहयोग से विमेन इन सोलर एनर्जी पोर्टल शुरू किया है।

केंद्रीय वित्त मंत्री ने ऊर्जा क्षेत्र में काम कर रही महिलाओं और लाभार्थियों से बातचीत भी की। यह महिलाएं गांव में काम कर रही हैं और खासतौर पर ग्रामीण क्षेत्रों में सामुदायिक स्तर पर एनेर्जी ट्रांज़िशन के कार्य में तेजी ला रही हैं।

इस कार्यक्रम में राज्यसभा की अपर सचिव और नवीन एवं नवीनीकृत ऊर्जा मंत्रालय की पूर्व अपर सचिव डॉक्टर वंदना कुमार और सोलर एनर्जी कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड की प्रबंध निदेशक सुमन शर्मा भी मौजूद थीं।

यह भी देखें